निराश्रितों को शीतलहर व ठंड से राहत दे रहे 18 रैनबसेरे

Estimated read time 1 min read
Spread the love

सीएम योगी के निर्देश पर साफ-सफाई, कंबल समेत सभी मूलभूत सुविधाओं से लैस हैं रैनबसेरे

रैन बसेरे में मनोरंजन के लिए टीवी और सुरक्षा के लिए लगे हैं सीसीटीवी

महिला और पुरुषों के लिए रैनबसेरे में है अलग-अलग व्यवस्था

प्रहलाद पाण्डेय की खास रिपोर्ट

वाराणसी/संसद वाणी : काशी में बनाए गए 18 रैनबसेरे निराश्रितों को शीतलहरी व ठंड से राहत दे रही है। सीएम योगी के निर्देश पर यहां साफ-सफाई, कंबल, ब्लोअर समेत सभी मूलभूत सुविधाओं का पूरा ध्यान दिया जा रहा है। रैन बसेरे में महिलाओं और पुरुषों के लिए अलग-अलग व्यवस्था की गई है। योगी सरकार ने मनोरंजन के लिए टीवी और सुरक्षा के लिए सीसीटीवी भी लगवाई है।

13 स्थायी व 5 अस्थायी रैनबसेरे
काशी में शीतलहर और कड़ाके की ठंड ने खुले में सोने वाले निराश्रित और बेघरों की मुश्किलें बढ़ा दी है। योगी सरकार ठंड से बचाने के लिए ऐसे लोगों के लिए निशुल्क शेल्टर होम संचालित कर रही है। नगर निगम के जनसम्पर्क अधिकारी संदीप श्रीवास्तव ने बताया कि वाराणसी में कुल 18 रैन बसेरा संचलित हो रहे हैं। इसमें 13 स्थाई और 5 अस्थाई रैन बसेरा है। 18 शेल्टर होम में 431 बेड है। ठंड से बचाने के लिए इसमें रजाई, कंबल, गद्दा, चादर, तकिया आदि की समुचित व्यवस्था की गई है। शेल्टर होम में स्वच्छ पेयजल की सुविधा और शौचालय की भी व्यवस्था है। शेल्टर होम में अलाव व कुछ जगहों पर ब्लोअर की भी व्यवस्था नगर निगम की ओर से की गई है। यह रैनबसेरे रेलवे स्टेशन, बस अड्डा, घाटों पर ख़ास तौर पर बनाये गए हैं। बाहर से आ रहे यात्रियों की जानकारी के लिए नगर निगम शेल्टर होम के स्थान के बारे में जानकारी देने के लिए प्रचार प्रसार भी कर रहा है।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours