प्राण प्रतिष्ठा से पहले काशी के बुनकर ने राम मंदिर की डिजाइन वाली साड़ी के जरिए देश -विदेश में खासी पहचान बनाई

Estimated read time 1 min read
Spread the love

वाराणसी/संसद वाणी : अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा से पहले काशी के बुनकर ने राम मंदिर की डिजाइन वाली साड़ी के जरिए देश -विदेश के लोगों में खासी पहचान बनाई है.इस खूबसूरत बनारसी साड़ी की बाजार में खासा डिमांड है.गुजरात,महाराष्ट्र, बंगलुरू का अलावा और भी कई शहरों से इस खूबसूरत साड़ी के लिए इंक्वायरी के साथ ऑर्डर भी मिल रहे है.
साड़ी तैयार करने वाले बुनकर सर्वेश श्रीवास्तव ने बताया कि उचन्त बुनकरी कला के जरिए इस बनारसी साड़ी को तैयार किया गया है.जिसमें किसी भी तरह का मशीनरी वर्क नहीं है.हथकरघे पर दो महीने से अधिक वक्त में 18 कारीगरों द्वारा मिलकर इस साड़ी को तैयार किया गया है.यह साड़ी प्योर रेशम से बनी है.बात यदि इस साड़ी के डिमांड की करें तो देसी लोगों के साथ विदेशों में रहने वाले भारतीयों को भी यह साड़ी पसन्द आ रही है.

सर्वेश का दावा है कि इस साड़ी के एक्सक्लूसिव पीस को वो इटली भेजे है.इसके अलावा गुजरात,साउथ इंडिया के साथ कई बड़े शहरों से भी इसकी डिमांड आ रही है.बात यदि इस साड़ी के कीमत की करें तो 35 हजार रुपये में इसे बाजार में बेचा जा रहा है.

डिजाइनर नेहा ने बताया कि जब राम मंदिर की नींव पड़ी थी उसके बाद ही इसके लिए उन्होंने सोचा था और फिर डिजाइन तैयार कर इसे बेहद ही खूबसूरत तरीके से साड़ी पर उकेरा गया तो बाजार में फिर बनारसी साड़ी की धूम मच गई.बता दें कि इस बनारसी साड़ी पर अयोध्या के राम मंदिर को हूबहू उकेरा गया है.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours