जर्जर और जीर्ण – शीर्ण अवस्था में मिला भटपुरवां का प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र, सीएमओ ने जीर्णोधार का दिया आश्वासन…

Estimated read time 1 min read
Spread the love

ओ पी श्रीवास्तव
चंदौली/संसद वाणी : सरकार जहां ग्रामीण अंचलों में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को हाईटेक बनाने पर जोर दे रहें हैं, वहीं जनपद चंदौली के सदर ब्लाक स्थित भटपुरवां गांव में स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र जर्जर भवन और बदहाल स्थिति में मिला। बता दें कि मीडियाकर्मियों के ग्राउंड रिपोर्टिंग में काफी लागत से बने स्वास्थ्य उपकेंद्र की स्थिति बदहाल मिली। ग्रामीणों ने बताया कि काफी समय से प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र बदहाल स्थिति में है। जर्जर भवन, हादसों को दावत देती इमारतें और टूटे – फूटे फर्श पर स्वास्थ्य योजनाएं संचालित की जाती हैं। अधिकारियों से कई बार शिकायत की गई लेकिन नतीजा नगण्य रहा। इस बाबत ग्राम प्रधानपति प्रदीप पांडेय ने बताया कि मौके पर एएनएम पहुंचती हैं, टीकाकरण का कार्य भी होता है, लेकिन हादसे की आशंका बनी रहती है। इस बाबत एएनएम ने भी कई बार अधिकारियों से शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई। हालांकि एक बार जीर्णोधार की आस भी जगी लेकिन आस सिर्फ आस बनकर रह गई। राज्य स्वास्थ्य मंत्री दयाशंकर मिश्रा को पत्रक सौंप मामले के बाबत अवगत कराया गया था,लेकिन कोई कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई।

सीएमओ डॉक्टर युगल किशोर राय


हालांकि संसदवाणी न्यूज टीम की शिकायत पर सीएमओ डॉ युगल किशोर राय ने मातहतों से जानकारी लेकर बदहाल और जर्जर प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र के भवन जीर्णोधार का आश्वासन दिया है। हालांकि देखना लाजमी होगा कि सीएमओ के आश्वासन के बाद स्थिति में कब तक सुधार होता है या मामला अधर में लटका रहता है।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours