चंदौली : कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ताओं ने शहीद कामरेडो को किया याद, मनाया शहादत दिवस…

Estimated read time 0 min read
Spread the love

अशोक कुमार जायसवाल

चंदौली/पीडीडीयूनगर/संसद वाणी: जनपद चंदौली में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी ) तहसील कमेटी के नेतृत्व में शहीद कामरेड भोला व लालचंद की 42वीं शहादत दिवस लाल चौक बबुरी पर मनाई गई। प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी हजारों की संख्या में मजदूर किसान एकत्रित हुए और अपने बहादुर दिवंगत साथी कामरेड भोला व लालचंद को श्रद्धांजलि अर्पित की।
कार्यक्रम के शुरुआत में साधन सहकारी समिति बबुरी से एक जुलूस लाल चौक बबुरी पहुंचा तत्पश्चात जुलूस में कामरेड भोला, लालचंद अमर रहे ,कामरेड भोला लालचंद तुम्हें न भूले हैं ना तुम्हें भूलेंगे ,शहीदों तेरे अरमानों को मंजिल तक पहुंचाएंगे ,मनरेगा की मजदूरी 700 करो और 200 दिन काम दो, बिजली का निजीकरण बंद करो ,बेरोजगारों को कम दो ,काम के अधिकार को संवैधानिक अधिकार का दर्जा दो आदि नारे लगा रहे थे ।


भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी के राज्य सचिव कामरेड डॉक्टर हीरालाल यादव ने कहा कि गुलामी के खिलाफ जो भी बोलता है वह मर जाता है और उसी के बल पर आजादी आती है जिसमें हम आज जिंदा हैं तो कामरेड भोला और लालचंद भी उस समय की तानाशाही के खिलाफ आवाज उठाई थी और आज हम लोगों को भी तानाशाही के खिलाफ जो आज मोदी मनमानी तरीके से देश की सार्वजनिक संपत्तियों को देश की बिजली को, रेल को ,बैंक को निजी हाथों में सौंपते जा रहे हैं जिस देश में एक तरफ महंगाई बढ़ रही है दूसरी तरफ बेरोजगारी बढ़ रही है और सरकार संविधान को धता बताते हुए संवैधानिक मूल्यों को रौदते हुए आज जिस तरीके से धार्मिक प्रपंच को पैदा किया जा रहा है धर्म को राजनीति में शामिल कर सत्ता में शामिल कर लोगों को उनके बुनियादी अधिकारों से वंचित करने का काम कर रहे हैं निश्चित तौर पर यह जनता एक न एक दिन मोदी और योगी के तानाशाही रवैया को खत्म कर देगी।
सभा की अध्यक्षता शाहिद साथी कामरेड भोला व लालचंद के सबसे छोटे भाई कामरेड लालजी एडवोकेट व संचालन जनवादी नौजवान सभा के राज्य सचिव कामरेड गुलाबचंद ने किया।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours