डीएम की अध्यक्षता में मनरेगा,निराश्रित गोवंश संरक्षण,पंचायती राज एवं अन्य योजनाओं सहित जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी की बैठक संपन्न।

Estimated read time 1 min read
Spread the love

समस्त गो आश्रय स्थलों पर ठंड से बचाव के पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करने के दिए निर्देश।

राजेश गुप्ता

मऊ/संसद वाणी :आज जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में कैंप कार्यालय स्थित सभागार में मनरेगा कार्यो, निराश्रित गोवंश संरक्षण, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, पंचायती राज विभाग के कार्यों,राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन सहित वृक्षारोपण समिति एवं जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी की बैठक संपन्न हुई।
मनरेगा कार्यो की समीक्षा के दौरान डीसी मनरेगा ने बताया कि माह जनवरी तक मानव दिवस के निर्धारित लक्ष्य 38 लाख 18 हजार 675 के सापेक्ष अब तक 42 लाख 8344 मानव दिवस का सृजन किया जा चुका है। जनपद में मनरेगा के तहत कार्यरत कुल मजदूरो का 94.20 प्रतिशत आधार सीडिंग का कार्य पूर्ण हो चुका है। डिले पेमेंट में जनपद का पूरे प्रदेश में प्रथम स्थान है जो 99.10 प्रतिशत है।उन्होंने बताया कि जनपद में कुल 309 अमृत सरोवरो के सापेक्ष 300 सरोवरों पर खुदाई कार्य पूर्ण हो चुका है। खेल मैदान की प्रगति की समीक्षा के दौरान इस वित्तीय वर्ष 63 खेल मैदान निर्माण को देखते हुए जिलाधिकारी ने मनरेगा के तहत कच्चे कार्य कराए जाने के दृष्टिगत समस्त ग्राम पंचायतो में जमीनों का चिन्हांकन कर समतलीकरण का कार्य अवश्य पूर्ण करने के निर्देश दिए।मनरेगा के तहत निर्मित होने वाले अस्थाई गौशालाओं की समीक्षा के दौरान उन्होंने अभी तक तीन अस्थाई गौशालाओं का कार्य पूर्ण होने पर समस्त विकास खंडों में अस्थाई गौशालाओं का निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। इसके अलावा 18 गौशालाओं के विस्तारीकरण के सापेक्ष अभी भी चार गौशाला का विस्तारीकरण कार्य पूर्ण न होने पर जिलाधिकारी ने लक्ष्य के सापेक्ष समस्त गौशालाओं के विस्तारीकरण कार्य पूर्ण करने को कहा। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की समीक्षा के दौरान जनपद में समूह गठन हेतु निर्धारित लक्ष्य 835 के सापेक्ष अभी तक 755 समूह के गठन पर जिलाधिकारी ने शीघ्र ही शत-प्रतिशत समूहो का गठन करने को कहा। ग्राम संगठन हेतु निर्धारित लक्ष्य 645 के सापेक्ष 420 ग्राम संगठनों के गठन पर भी जिलाधिकारी ने शीघ्र ही निर्धारित लक्ष्य हासिल करने के निर्देश दिए। बैंक क्रेडिट लिंकेज(सीसीएल)में अभी तक 70.91 प्रतिशत की प्रगति पर जिलाधिकारी ने खराब प्रदर्शन वाले खंड विकास अधिकारियों को इसमें तेजी लाने के निर्देश दिए। समूह द्वारा किए जा रहे कार्यों में पति अथवा घर के अन्य पुरुष सदस्यों की ज्यादा भागीदारी संज्ञान में आने पर जिलाधिकारी ने समूह में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए उनके सशक्तिकरण पर विशेष ध्यान देने को कहा, जिससे इस योजना के मुख्य उद्देश्य की प्राप्ति हो सके।
निराश्रित गोवंश संरक्षण योजना की समीक्षा के दौरान मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि निराश्रित गोवंशों हेतु चलाए जा रहे अभियान के दौरान अब तक 1200 निराश्रित गोवंशों को संरक्षित किया जा चुका है जो निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष 74% है। इसी प्रकार सहभागिता योजना में भी जनपद ने लक्ष्य के सापेक्ष 93.3 प्रतिशत की प्राप्ति की है। अभियान के दौरान निराश्रित गोवंश संरक्षण एवं सहभागिता योजना के तहत गोवंश सुपुर्दगी की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने अगले एक सप्ताह तक अभियान चलाते हुए निर्धारित लक्ष्य का शत प्रतिशत हासिल करने को कहा। इसके अलावा समस्त गौशालाओं में ठंड से बचाव के पर्याप्त प्रबंध सुनिश्चित करने, पशुओं का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण करने एवं बीमार पशुओं के बेहतर इलाज की सुविधा भी सुनिश्चित करने के निर्देश जिला अधिकारी द्वारा दिए गए। वृक्षारोपण समिति की बैठक के दौरान विभागों द्वारा वृक्षारोपण के दौरान रोपित वृक्षों का जियो टैगिंग अत्यंत कम होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने वृक्षारोपण अभियान से जुड़े समस्त विभाग के अधिकारियों को जिओ टैगिंग का कार्य शीघ्र पूर्ण करने को कहा। इसके अलावा वृक्षारोपण से संबंधित जिन विभागों ने रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराई है,उन्हें भी तत्काल रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिए गए। प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण की प्रगति की भी समीक्षा कर परियोजना निदेशक को आवश्यक निर्देश दिए।
बैठक के दौरान ही जिलाधिकारी ने जिला स्वच्छ भारत मिशन मैनेजमेंट कमेटी की भी समीक्षा की।
कायाकल्प योजना की समीक्षा के दौरान सीडबल्यूएसएन टॉयलेट में अभी तक विकासखंड फतेहपुर मंडाव में 89 प्रतिशत तथा रानीपुर में 92 प्रतिशत कार्य पूर्ण होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने संबंधित खंड विकास अधिकारियों को कायाकल्प के समस्त पैरामीटर्स पर यथाशीघ्र कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए। व्यक्तिगत शौचालय में विकासखंड दोहरीघाट एवं मोहम्मदाबाद गोहना में निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष कम आवेदनों पर उन्होंने संबंधित खंड विकास अधिकारियों को नियमित समीक्षा करने को कहा। पात्र लाभार्थियों का चिन्हांकन कार्य ठीक ढंग से न होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने सर्वे कर समस्त पात्र लाभार्थियों को इस योजना का लाभ दिलाना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री मंत्री विश्वकर्मा योजना के तहत अभी भी 73 ग्राम पंचायते ऑन बोर्डेड न होने पर जिलाधिकारी ने इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई कर समस्त ग्राम पंचायतो को ऑन बोर्डेड करने के निर्देश दिए। इसके अलावा इस योजना में प्राप्त आवेदनों के सापेक्ष ग्राम प्रधानों द्वारा अत्यंत कम सत्यापन होने पर भी जिलाधिकारी ने आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। पंचायती राज विभाग के अधीन जनपद में निर्मित होने वाले कुल 22 खाद्यान्न भंडारण हेतु अभी भी कई ग्राम पंचायतो में जमीन की उपलब्धता न होने पर उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को तत्काल इस संबंध में संबंधित उप जिला अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर समस्त स्थलों पर कार्य प्रारंभ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रशांत नागर,डीसी मनरेगा, परियोजना निदेशक, जिला पंचायत राज अधिकारी, समस्त अधिशासी अधिकारी, समस्त खंड विकास अधिकारी सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours