प्रभावित गांव के किसानों ने किसान मजदूर मोर्चा के बैनर तले की बैठक

Estimated read time 0 min read
Spread the love

18 जनवरी को किसान जिला मुख्यालय पर करेंगे प्रदर्शन।

पिंडरा/संसद वाणी : के रमईपुर मंडी के प्रांगण मे बुधवार को काशी द्वार के विरोध में बैठक हुई। जिसमें किसानों ने अपनी मांग दोहराते हुए कहाकि किसान किसी भी कीमत पर अपनी जमीन नही देंगे।
आवास विकास परिषद के द्वारा नोटिस मिलने के बाद आयोजित बैठक में संयुक्त किसान मजदूर मोर्चा के पदाधिकारियों ने हुंकार भरी और प्रशासन को चेतावनी दी। किसानों ने कहाकि किसान अन्न दाता है लेकिन आज किसानों को उजाड़ कर उनकी उपजाऊ खेती को लेकर स्मार्ट सिटी बनाया जा रहा है ।
मोर्चा के अध्यक्ष फतेहनरायण सिंह, व सीपीआईएम के प्रदेश सचिव डॉ हीरालाल यादव व रामजी सिंह ने सरकार से किसान मजदूर विरोधी योजना क़ो रद्द करने की मांग की। बैठक में 18 जनवरी क़ो जिला मुखयालय पर प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया । बैठक के दौरान राज्य स्तरीय कमेटी का गठन किया गया, और काशी द्वार योजना रद्द होने तक किसानों मजदूरों ने आंदोलन करने की चेतावनी दी।
बैठक के दौरान सन्तोष पटेल, प्रेम कुमार नट, अखिलेश कुमार, श्यामलाल, बच्चन, रामजी सिंह, मेवालाल, जितेंद्र कुमार , लक्ष्मण व जोखू, जय संकर सिंह, नन्दलाल पटेल, नंदा राम शास्त्री, राजू राम, दुर्गानारायण, लक्ष्मण प्रसाद, श्यामधनी मास्टर, जवाहर लाल दुबे समेत अनेक किसान मजदूर रहे।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours