PM Narendra modi के ड्रेसिंग रूम में जाने पर, सहवाग ने दिया स्टेटमेंट, कहा कि…………

Estimated read time 1 min read
Spread the love

World Cup 2023: वर्ल्ड कप फाइनल में हार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) भारतीय टीम का हौसला बढ़ाने के लिए टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम में पहुंचे थे. पूर्व कोच रवि शास्त्री ने पीएम के ड्रेसिंग रूम में जाने पर काफी प्रशंसा की थी. अब वीरेंद्र सहवाग भी पीएम के इस कदम से खुश नजर आए.

भारत को वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल में शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा था. रोहित शर्मा (Rohit Sharma), विराट कोहली (Virat Kohli), मोहम्मद शमी जैसे खिलाड़ियों ने टूर्नामेंट में बेहतरीन परफॉर्म किया लेकिन फाइनल नहीं जीत सके. हार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) भारतीय टीम का हौसला बढ़ाने के लिए टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम में पहुंचे थे. पूर्व कोच रवि शास्त्री ने पीएम के ड्रेसिंग रूम में जाने पर काफी प्रशंसा की थी. अब वीरेंद्र सहवाग भी पीएम के इस कदम से खुश नजर आए.

वीरेंद्र सहवाग ने एएनआई से बातचीत के दौरान कहा, “ऐसा बहुत कम होता है जब टीम हारे और कोई प्रधानमंत्री ड्रेसिंग रूम में जाकर प्लेयर्स का उत्साह बढ़ाए. मैंने कभी नहीं देखा कि कोई प्रधानमंत्री अपना कीमती वक्त निकालकर खिलाड़ियों के हौसला बढ़ाने के लिए ड्रेसिंग रूम में गए हो. यह सचमुच हमारे पीएम के द्वारा उठाया गया यह एक सराहनीय कदम था. एक समय ऐसा आता है जब प्लेयर्स को सपोर्ट की जरूरत होती है. उस समय आप चाहते हो कि आपको कोई इतना सपोर्ट करें जैसे कि कोई फैमिली. वो कमी बखूबी पीएम ने पूरी की.”

फाइनल में हार के बाद विपक्ष के नेताओं का कहना था कि पीएम मोदी की उपस्थिति के कारण भारत ने यह मैच गंवाया. इसपर सहवाग ने कहा,” देखिए कोई भी फाइनल मैच आप किसी एक इंसान के कारण नहीं हारते हो. ऑस्ट्रेलिया ने अच्छा खेला. उसने यह मैच जीत लिया. हम आगे बढ़िया करने की कोशिश करेंगे.”

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराकर वर्ल्ड कप (World cup 2023) का छठा टाइटल जीता है. टीम ने दूसरी बार फाइनल में टीम इंडिया को हराया. इससे पहले कंगारू टीम ने 2003 के फाइनल में भारतीय टीम को हराया था. ऑस्ट्रेलिया ने 1987, 1999, 2003, 2007, 2015 और अब 2023 में वर्ल्ड कप का खिताब जीता. दूसरी ओर भारतीय टीम 2011 के बाद से वर्ल्ड कप का खिताब नहीं जीत सकी है.

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours