आई एम ए बनारस रक्त बैंक प्रदेश के अग्रणी रक्तकोष के रूप में हुआ सम्मानित

Estimated read time 1 min read
Spread the love

वाराणसी/संसद वाणी

आई एमए बनारस रक्तबैंक सन 1985 से जब से लाइसेंसिंग प्रक्रिया भी कहीं नहीं परिभाषित थी या व्याप्त थी, अनवरत रूप से जनपद एवं आसपास के एक बड़े क्षेत्र में जरूरतमंद रोगियों को आधुनिक तकनीक के द्वारा मापदंडों के अनुसार रक्त उपलब्ध कराता चला रहा है, इसी विशेषता के कारण प्रदेश नहीं हमें राष्ट्रीय स्तर पर एक अग्रणी रक्त कोष होने का गौरव प्राप्त है,
विगत वर्ष जब प्रदेश तथा जनपद में डेंगू एवं थ्रोंबो साइटोपिनिया का कहर टूटा हुआ था तथा प्लेटलेट की मांग चरम सीमा पर थी इस रक्त बैंक ने भारी संख्या में सिंगल डोनर एवं रैंडम प्लेटलेट की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए अनेक रोगियों की जीवन रक्षा की और वक्त की जरूरत पर खरा उतरा, इस दौरान रक्त बैंक में स्थापित 5-एसडीपी तथा रैंडम प्लेटलेट मशीन के द्वारा कार्यरत सभी कर्मचारी पूर्ण लगन और सेवा भाव से 24 घंटे बिना भूख, बिना निद्रा की परवाह किए रोगियों की सेवा हेतु प्रयासरत रहे,

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्वयं हमारी मुलाकातों में तथा विभिन्न जनपटल पर इस रक्त बैंक की बिना किसी सरकारी अनुदान की मदद से हो रही जनसेवा तथा कार्य कुशलता की मुक्त कंठ से प्रशंसा की हुई है,

इन तमाम उपलब्धियों के मद्देनजर दिनांक 14-6-2023 को विश्व रक्तदान दिवस के अवसर पर लखनऊ में आयोजित प्रदेश स्तरीय समारोह में राज्य रक्त संचरण परिषद उत्तर प्रदेश द्वारा स्मृति चिन्ह तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर आई एमए बनारस रक्त कोष को रक्त संग्रहण तथा उत्कृष्ट सेवाओं हेतु सम्मानित किया गया

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours