जैपुरिया स्कूल्स बनारस के पड़ाव कैंपस में जोश मेगा स्कॉलरशिप टेस्ट 2024-25 का हुआ आयोजन

Estimated read time 1 min read
Spread the love

अशोक कुमार जायसवाल

चंदौली/संसद वाणी : एम.आर.जैपुरिया स्कूल्स बनारस के पड़ाव कैंपस में “जोश” मेगा स्कॉलरशिप टेस्ट 2024 –25 सम्पन्न हुआ|इस कार्यक्रम का उद्देश्य था बच्चों को अपने भीतर छुपी ज्ञान गंगा से परिचित कराना क्योंकि ज्ञान मानव जीवन के उद्देश्यों की प्राप्ति में सहायक होता है | यह छात्रवृत्ति परीक्षा कक्षा छठवीं से नौवीं एवं ग्यारहवीं तक के सम्पूर्ण वाराणसी के सभी विद्यार्थियों के लिए खुला था |इस छात्रवृत्ति परीक्षा में लगभग पंद्रह सौ बच्चों ने भाग लिया |
ये छात्रवृत्ति परीक्षा आकर्षक उपहारों के कारण सम्पूर्ण बनारस केलिए उत्सुकता का केंद्र रही | इस परीक्षा में कक्षा नौवीं एवं ग्यारहवीं वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले बच्चे को लेपटॉप, 31,000 नगद राशि एवं यदि बच्चा जैपुरिया विद्यालय में प्रवेश लेता है तो वर्ष पर्यन्त शत-प्रतिशत शिक्षा शुल्क मे छूट भी दी जाएगी | इसी प्रकार द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र को लेपटॉप, 21,000 नगद राशि एवं जैपुरिया विद्यालय में प्रवेश लेने पर वर्ष पर्यन्त नब्बे प्रतिशत शिक्षा शुल्क मे छूट भी दी जाएगी | इसी क्रम मे अलग अलग पांच आकर्षक उपहारों समेत 30 प्रतिशत से 100 प्रतिशत तक शिक्षा शुल्क मे छूट बच्चों को प्रदान की जाएगी | इसी प्रकार कक्षा छठवीं से आठवीं तक के विद्यार्थियों हेतु भी लैपटॉप,स्मार्ट फोन, टैबलेट, स्मार्ट वॉच एवं 30 प्रतिशत से 100 प्रतिशत तक शिक्षा शुल्क मे छूट का प्रावधान है | इस छात्रवृत्ति परीक्षा का परिणाम दिनांक 17 फ़रवरी 2024 को घोषित होगा |


इस अवसर पर विद्यालय के चेयरमैन दीपक बजाज ने अपने ओजस्वी विचारों से सभी को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि – लक्ष्य के लिए जोशीले और जुनूनी बनिए,विश्वास रखिए परिश्रम का फल सफलता ही है । केवल एक चीज जो आपके और आपके सपने के बीच है, वह है प्रयास करने की इच्छाशक्ति और यह विश्वास कि यह वास्तव में संभव है।
इस अवसर पर विद्यालय के प्रबंध निदेशक मनोज बजाज ने अपने प्रेरणास्पद विचारों को साझा करते हुए कहा कि – जब व्यक्ति के व्यक्तित्व का विकास होता हैं तो वह अच्छे-अच्छे कार्य करता हैं और जिस पर उसके परिवार,समाज और देश को गर्व होता हैं. वो विद्यार्थी निश्चित ही सफल होते हैं जो अपने समय को महत्व देते हैं और उस समय का सही उपयोग अपनी पढ़ाई के लिए करते हैं |
स्कॉलरशिप टेस्ट का समय प्रातः 9;30 से 12 बजे तक था | इस अवसर पर अपने बच्चों के साथ आये अभिभावकों हेतु भी विद्यालय मे अनेक गतिवधियों का आयोजन किया गया था जिससे वे अपने बच्चों के प्रति चिंतामुक्त रहें | इन गतिविधियों में क्रिकेट मैच, तीरंदाजी, निशानेबाज़ी एवं सिनेमा मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा | सभी अभिभावकों ने उक्त परीक्षा के दौरान अपना ढाई घंटे का समय इन गतिविधियों में आनंद पूर्वक व्यतीत किया |
इस कार्यक्रम में विद्यालय के चेयरमैन दीपक बजाज, प्रबंध निदेशक मनोज बजाज, कार्यकारी निदेशक निदेशक श्यामसुंदर बजाज, निदेशिका मंजू बुधिया, प्रधानाचार्य आशीष सक्सेना ,उपप्रधानाचार्या प्रियंका मुखर्जी अतिथि अभिभावक वृंद एवं बच्चों के साथ ही विद्यालय के समस्त शिक्षकों की गरिमापूर्ण उपस्थिति रही|

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours