बिना दूल्हे ही दुल्हनों ने कर ली शादी, सामूहिक विवाह में हुई बड़ी धांधली 

Estimated read time 1 min read
Spread the love

Chief Minister Mass Marriage Scheme: यूपी के बलिया से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के दौरान बड़ा फर्जीवाड़ा का मामला सामने आया है.

देश में फर्जीवाड़े के बड़े मामलों के बीच यूपी के बलिया से एक अनोखा केस सामने आया है. जहां 25 जनवरी को आयोजित हुए सामूहिक विवाह कार्यक्रम में सैकड़ों दुल्हनों ने बिना दूल्हे के ही शादी कर ली है. जबकि इसमें कुछ ऐसे मामले भी सामने आए है जिसमें से कुछ महिलाएं तो पहले से ही शादीशुदा हैं.

25 जनवरी को 568 जोड़ों का हुआ था विवाह

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकता वाली सामूहिक विवाह योजना में बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है. योजना के तहत बलिया के मनियर में 25 जनवरी को सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजित हुआ. जिसमें 568 जोड़ों की शादी होने का दावा किया गया था. जिसको लेकर सामने आए वीडियो में देखने को मिल रहा है कि पहली पंक्ति में खड़ी सभी महिलाएं बगैर किसी वर के खुद ही अपने आप को वरमाला पहन रही हैं. वहीं इस सामूहिक विवाह को लेकर इलाके के लोगों का कहना है कि विवाह में 90 फीसदी दूल्हा-दुल्हन सभी फर्जी हैं. इस कार्यक्रम में कई ऐसी महिलाएं शामिल हुई जो पहले से ही शादीशुदा हैं. वहीं कुछ दूल्हे ऐसे भी रहे हैं जो अभी नाबालिक हैं.

मामले की हो रही जांच

इस मामले को लेकर जिला समाज कल्याण अधिकारी राजीव कुमार यादव का कहना है कि यह आयोजन ब्लॉक स्तर पर हुआ था. जिसमे गड़बड़ी की जानकारी सामने आई है. जिसकी जानं की जा रही है. जो दोषी पाया जाएगा उसको दंडित किया जाएगा. 

वहीं सामूहिक विवाह योजना में घालमेट का ये पहला मामला नहीं है. इसके पहले साल 2019-20 से लेकर 2021-22 के बीच ऑडिट के दौरान भी धांधली की बात सामने आई थी. जिसमें पता कि इसमें कई ऐसे भी लोग सामने आए जो पहले से शादीशुदा के साथ ही बच्चे वाले भी थे. जिनकी शादी हुई.

सरकार द्वारा दी जाती है सहायता राशि

इस योजना के तहत गरीब घर की लड़कियों की शादी प्रदेश सरकार द्वारा कराया जाता है. जिसमें सरकार द्वारा प्रत्येक जोड़े को 51 हजार रुपये की राशि प्रदान की जाती है।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours