धान खरीद में जहां भी समस्या आए तुरंत फोन करके सूचित करें किसान:जिलाधिकारी

Estimated read time 1 min read
Spread the love

ओ पी श्रीवास्तव
चंदौली/संसद वाणी : जिलाधिकारी निखिल टी. फुंडे की अध्यक्षता में किसान दिवस की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई।बैठक में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को किसानों की समस्याएं त्वरित गति से निस्तारित करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान किसानों ने धान खरीद में बिचौलियों की बढ़ती भूमिका से होने वाले नुकसान,नहरों में पर्याप्त पानी की उपलब्धता न होने,उर्वरकों की कमी एवं नहरों की सिल्ट सफाई न होने का मुद्दा प्रमुखता से उठाया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को सभी समस्याओं के त्वरित निस्तारण का निर्देश दिया।जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने विभाग से संबंधित बिंदवार समस्याओं को संज्ञान में लेते हुए कृषकों के साथ स्थलीय निरीक्षण कर त्वरित गति से समस्याओं का निस्तारण कराना सुनिश्चित करें।

किसानों द्वारा धान क्रय केंद्रों पर बिचौलियों की बढ़ती भूमिका के संबंध में जिलाधिकारी को अवगत कराया गया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने डिप्टी आरएमओ को जांच करने के निर्देश दिए,साथ ही जिलाधिकारी ने किसानों से कहा कि इस संबंध में उनके पास जो भी प्रमाण या केंद्रों की सूची हो उसको उपलब्ध कराएं जिससे कि जांच कराई जा सके।

किसानों द्वारा चंद्रप्रभा बांध से पानी रिसने,नहरों में पानी न आने एवं नहरों में सिल्ट सफाई न होने का मुद्दा उठाया गया।किसानों द्वारा माइनर के घास फूस एवं जल कुंभी से पटे होने का मुद्दा भी उठाया गया।इस संबंध में जिलाधिकारी निखिल टी. फुंडे ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को आवश्यकतानुसार नहरों में साफ सफाई कराने के निर्देश दिए गए।

बैठक में कुछ किसानों द्वारा चहनिया में 75 प्रतिशत नालियां क्षतिग्रस्त होने,एवं रामगढ़ में बाणगंगा की खुदाई का मुद्दा उठाया गया।इस संबंध में जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग के संबंधित अधिकारियों को मौके पर जाकर इसे निस्तारित करने का निर्देश दिया।स्थानीय किसान द्वारा बरवाडीह एवं मझगई के सोसायटी में उर्वरक न मिलने का मुद्दा उठाया जिस पर जिलाधिकारी ने एआर कॉपरेटिव को जांच करने के निर्देश दिए।

बैठक के दौरान कृषक उत्पादक संगठनों के प्रतिनिधियों ने भी सिंचाई,उर्वरक एवं विद्युत का मुद्दा उठाया गया।बैठक में सिंचाई विभाग के अधिशाषी अभियन्ता,डीडी एजी,लीड बैंक मैनेजर,जिला कृषि अधिकारी,डिप्टी आरएमओ,एवं किसान संगठनों के प्रतिनिधि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

You May Also Like

More From Author

+ There are no comments

Add yours