Estimated read time 1 min read
आपके लेख

घरों में पुरुष पर होने वाली हिंसा की चिन्ता

नये बन रहे समाज एवं पारिवारिक माहौल में अब महिलाएं ही नहीं, पुरुष भी हिंसा के शिकार हो रहे हैं, इसका ताजा उदाहरण है पुणे [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

हिंसामुक्त नारी समाज का सपना अधूरा क्यों?

पूरे विश्व में महिलाओं के प्रति हिंसा, शोषण एवं उत्पीड़न की बढ़ती घटनाओं के उन्मूलन हेतु संयुक्त राष्ट्र के द्वारा प्रतिवर्ष 25 नवंबर को ‘अंतर्राष्ट्रीय [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

कांग्रेस नेताओं के अपशब्द क्या कांग्रेस का खेल बिगाड़ सकते हैं ?

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मंगलवार को राजस्थान के एक चुनावी रैली में कहा, ‘पनौती…पनौती…पनौती… हमारे लड़के विश्व कप जीतने की राह पर थे लेकिन [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

रिश्तों की अंधी दुनिया में गुम होती किशोर पीढ़ी

सोशल मीडिया, मोबाइल एवं संचार-क्रांति से दुनिया तो सिमटती जा रही लेकिन रिश्तों में फासले बढ़ते जा रहे हैं। भौतिक परिवर्तनों, प्रगति के आधुनिक संसाधनों [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

जरुरी नहीं की पटाखों से ही दीवाली हो, हमें बुजुर्गों व पर्यावरण का भी ध्यान रखना होगा

जल्द ही इस  माह दिवाली 12 तारीख को आने वाली है। दिवाली के आने की  आहट के साथ याद आने लगती है  बचपन में पढ़ी कविता [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

दीपावली पर नेता चुनाओं में व्यस्त जनता महंगाई की मार से  पस्त, कौन करें सुनवाई ?

इस साल की दीपावली पर महंगाई का असर साफ दिखने लगा है। महंगाई ऐसी कि अन्य सामान की कीमत के साथ ही सब्जी की कीमतें [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

लौहपुरुष एवं भारत के बिस्मार्क थे सरदार पटेल

अदम्य उत्साह, असीम शक्ति एवं कर्मठता से नवजात भारत गणराज्य की प्रारम्भिक कठिनाइयों का समाधान कर विश्व के राजनीतिक मानचित्र पर एक अमिट आलेख लिखने [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

मणिपुर मुद्दे पर संसद में पीएम के बयान की मांग बनाम विपक्ष चर्चा से भाग रहा है बयान

गोंदिया – वैश्विक स्तरपर भारत दुनियां का सबसे बड़ा लोकतंत्र के रूप में विख्यात है,जिसकी अनेक देशों में मिसालें दी जाती है कि हर विषय [more…]

Estimated read time 1 min read
आपके लेख

ताजिया भारत में भक्ति और प्रेम की अभिव्यक्ति के साथ समाजिक सद्भाव का प्रतीक

ताज़िया शब्द अरबी शब्द  अज़ा से आया है  जिसका अनुवाद मृतकों को याद करना है; इस प्रकार, ताजियात का अर्थ है मृतक के प्रति संवेदना, [more…]

Estimated read time 0 min read
आपके लेख

विध्वंस और सनातन_सभ्यता

मिस्र के फराओ मन्दिर एक बार टूटे, फिर कभी न बन सके और मिस्र समाप्त हो गया। फारस के अग्नि मन्दिर एक बार टूटे फिर [more…]