30.7 C
Munich
Monday, July 15, 2024

प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को ही उतारा मौत के घात, 23 दिन बाद सुलझी मौत की गुत्थी

Must read

UP Crime News: उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक प्रेमी रात को अपनी प्रेमिका से मिलने पहुंचा था. वहां, उसकी प्रेमिका दो अन्य लड़कों के साथ दिखी तो प्रेमी ने अपनी प्रेमिका को ही मौत के घात उतार दिया.

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक प्रेमी अपनी प्रेमिका को मौत के घात उतारा देता. किसी को कानो कान खबर नहीं होती. पुलिस दूसरे शख्स के खिलाफ मुकदमा दर्ज करती है. लेकिन जब जांच होती है तो आरोपी कोई और निकलता है. लड़की की हत्या के 23 दिन बाद पुलिस पोस्टमार्टम करने के लिए दफनाए हुए शव को बाहर निकलाती है. इसके बाद पता चलता है कि उसके आशिक ने ही लड़की की हत्या की है. इसके बाद पुलिस आरोपी को  गिरफ्तार कर लेती है. आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसे शक था कि उसकी प्रेमिका का किसी और के साथ प्रेम संबंध चल रहा है.

ये पूरी घटना पीलीभीत के जहानाबाद थाना क्षेत्र की है. इस क्षेत्र की जाकिरा अपनी बेटी को दादा दादी के पास छोड़कर परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मजदूरी करने नेपाल पहुंच गई थी. बीते 13 अप्रैल को बेटी शीरी की हत्या की खबर सुनकर जाकिरा वापस पीलीभीत आती है.

सिपाही के खिलाफ दर्ज किया गया मुकदमा

14 अप्रैल को शीरी को दफना दिया गया था. मोबाइल को ठीक कराने पर मुरादाबाद में तैनात सिपाही राजकुमार और उसकी प्रेमिका की फोटो मिलती है. बताया जा रहा है शीरी और सिपाही की प्रेमिका दोस्त थी.

इसी आधार पर सिपाही राजकुमार और उसकी प्रेमिका समेत 4 लोगों पर मुकदमा दर्ज किया गया था. मुकदमा दर्ज होने के बाद डीएम ने शीरी के शव को कब्र से निकालकर उसका पोस्टमार्टम कराने का आदेश दिया.

शीरी के शव को कब्र से निकाला गया. उसका पोस्टमार्टम कराया गया पता चला कि उसका गला दबाकर जान से मारा गया है. इसके बाद जांच में सामने आया कि जिस सिपाही के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था वह बेगुनाह निकला. असल कातिल कोई और नहीं बल्कि शीरी का प्रेमी जो उसी के गांव का था. आरोपी का नाम मोहम्मद साहिम था.

12 अप्रैव की रात को घटी घटना

पुलिस ने मोहम्मद साहिम को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में पता चला कि साहिम और शीरी एक दूसरे से प्रेम संबंध में थे. 12 अप्रैल की रात को शीरी ने अपने प्रेमी को बताए हुए स्थान पर मिलने के लिए बुलाया था. आरोपी प्रेमी समय से पहले ही पहुंच गया था. आरोपी साहिम ने देखा कि शीरी दो अन्य लड़को के साथ घर से बाहर निकल रही है. यह देखकर उसने शीरी से झगड़ा कर लिया. और ताव-ताव में आकर साहिम ने शीरी का गला दबा दिया.

शीरी के फोन से अपने प्रेमी से बात करती थी उसकी दोस्त

पुलिस ने शीरी की मौत की गुत्थी को सुलझाते हुए बीते मंगलवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. जांच में पता चला कि सिपाही राजकुमार की प्रेमिका अपनी सहेली शीरी के फोन से ही बात करती थी.    

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article