17.5 C
Munich
Tuesday, July 23, 2024

कौन हैं नए Indian Navy प्रमुख? जानें कितनी है नेवी चीफ की सैलरी 

Must read

एडमिरल त्रिपाठी सैनिक स्कूल रीवा और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला के पूर्व छात्र हैं. उन्हें 1 जुलाई 1985 को नौसेना की कार्यकारी शाखा में नियुक्त किया गया था.

एडमिरल दिनेश त्रिपाठी ने नौसेना प्रमुख की कंमान संभाल ली है. वे देश के 26वें नौसेने प्रमुख बने. उन्होंने एडमिरल आर हरि कुमार की जगह ली. एडमिरल दिनेश त्रिपाठी पहले नौसेना के उप प्रमुख थे. पदभार संभालने से पहले उन्होंने अपनी मां रजनी त्रिपाठी के पैर छूकर आशीर्वाद लिया. 

नौसेना की कमान संभालने के बाद उन्होंने कहा कि वह नौसेना को अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी से लैस करने की दिशा में कार्य करेंगे और नौसेना सदैव राष्ट्र प्रथम के मंत्र पर कार्य करते हुए सुभी चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार रहेगी. एडमिरल त्रिपाठी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि समुद्री क्षेत्र में मौजूदा और उभरती चुनौतियों से निपटने के लिए भारतीय नौसेना तैयार है. 

कौन हैं नए Indian Navy प्रमुख

एडमिरल त्रिपाठी सैनिक स्कूल रीवा और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी, खडकवासला के पूर्व छात्र हैं. उन्हें 1 जुलाई 1985 को नौसेना की कार्यकारी शाखा में नियुक्त किया गया था.

उन्होंने कहा कि मैं भारतीय नौसेना के आत्म-निर्भरता, नई तकनीक की दिशा में चल रहे प्रयासों को भी मजबूत करूंगा. विकसित भारत के लिए हमारी सामूहिक खोज की दिशा में राष्ट्र के विकास का एक महत्वपूर्ण स्तंभ बनूंगा. मेरी प्राथमिकता हमारी नौसेना के पुरुष और महिलाएं और उन्हें आधुनिक हथियार प्रशिक्षण, पेशेवर वातावरण और प्रशासनिक सहायता प्रदान करना है. 

नौसेना ने एक बयान में कहा कि एडमिरल त्रिपाठी ने संचार और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध विशेषज्ञ, नौसेना के अग्रिम पंक्ति के युद्धपोतों पर सिग्नल संचार अधिकारी और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध अधिकारी के रूप में और बाद में निर्देशित मिसाइल विध्वंसक आईएनएस मुंबई के कार्यकारी अधिकारी और प्रमुख युद्ध अधिकारी के रूप में काम किया है. उनके समुद्री कमांड में आईएनएस विनाश, किर्च और त्रिशूल शामिल हैं.

कई कमांड पर कर चुके हैं काम

नौसेना ने एक बयान में कहा, एडमिरल त्रिपाठी नौसेना के अग्रिम पंक्ति के युद्धपोतों पर सिग्नल संचार अधिकारी और इलेक्ट्रॉनिक युद्ध अधिकारी, टारगेटेट मिसाइल विध्वंसक आईएनएस मुंबई के कार्यकारी अधिकारी और प्रमुख युद्ध अधिकारी के रूप में काम किया है. उनके समुद्री कमांड में आईएनएस विनाश, किर्च और त्रिशूल शामिल हैं. उन्होंने एझिमाला, केरल में भारतीय नौसेना अकादमी के कमांडेंट के रूप में कार्य किया है. नौसेना प्रमुख का पदभार संभालने से पहले वह नौसेना स्टाफ के उप प्रमुख थे.

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article