30.7 C
Munich
Monday, July 15, 2024

आखिर कैसे कांग्रेस बनी Big Boss! जमकर खेला ‘बिग ब्रदर’ वाला खेल 

Must read

Lok Sabha Elections 2024 Results: लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित हो गए हैं. एक दशक बाद देश में गठबंधन वाली पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनने जा रही है. एक दशक बाद कांग्रेस की स्थिति भी सुधरी है. आइए, कांग्रेस के प्रदर्शन को समझते हैं.

करीब एक दशक बाद लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की स्थिति सुधरी है. 2014 में 44 और 2019 में 52 सीट जीतने वाली कांग्रेस ने 2024 में 99 सीटों पर जीत हासिल की है. ये परिणाम ऐसे ही नहीं आए हैं, बल्कि इसके पीछे कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, कांग्रेस की सीनियर नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की ‘बड़े भाई’ वाली रणनीति छिपी हुई है. बड़े भाई वाली रणनीति यानी छोटा भाई कुछ भी कहे मान लो. 

कांग्रेस के नेतृत्व वाले INDIA गठबंधन में समाजवादी पार्टी (37), डीएमके (22) शिवसेना उद्धव बाला साहेब ठाकरे (9), एनसीपी शरद पवार (8), राजद (4), सीपीएम (4), IUML (3), आम आदमी पार्टी (3), JMM (3),  JKNC (2), VCK (2), CPI (2), CPI(ML)(L)    (2) जैसे पार्टियां शामिल थीं.

INDIA गठबंधन में शामिल छोटी पार्टियों या क्षेत्रीय/राष्ट्रीय पार्टियों ने जब-जब जो कहा, जितनी सीटें मांगी, कांग्रेस ने इनकार नहीं किया. हमेशा बड़े भाई की भूमिका में आकर छोटे भाई की बात मान ली. सिर्फ पश्चिम बंगाल में ही कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस की बात नहीं बनी. जहां-जहां क्षेत्रीय/राष्ट्रीय पार्टियों से कांग्रेस की बात बनी, नतीजे अच्छे ही आए. कुल मिलाकर INDIA गठबंधन ने परिवार की तरह चुनाव लड़ा और न सिर्फ भाजपा को 240 पर रोक दिया, बल्कि अबकी बार 400 पार वाले कैंपेन को बुरी तरह धाराशायी भी कर दिया.

किस राज्य/केंद्र शासित प्रदेश में कितनी सीटों पर कांग्रेस को मिली जीत

राज्य/केंद्र शासित प्रदेशलोकसभा सीटों की संख्या
असम 3
बिहार3
चंडीगढ़1
छत्तीसगढ़1
दादर और नागर हवेल एंड दमन-दीव1
गोवा1
गुजरात1
हरियाणा5
जम्मू कश्मीर1
झारखंड 2
कर्नाटक9
केरल14
लद्दाख1
लक्षद्वीप1
महाराष्ट्र13
मणिपुर2
मेघालय1
नागालैंड 1
ओडिशा1
पुदुचेरी1
पंजाब 7
राजस्थान8
तमिलनाडु9
तेलंगाना8
उत्तर प्रदेश6
पश्चिम बंगाल1

कहां-कहां कांग्रेस ने गठबंधन में लड़ा चुनाव?

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर INDIA गठबंधन के तहत चुनाव लड़ा था.  INDIA ब्लॉक में शामिल अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी ने 37 सीटों पर और कांग्रेस 6 सीटों पर जीत हासिल की. यहां सीट शेयरिंग को लेकर सपा और कांग्रेस में कई बार पेंच फंसा था. आखिर में सपा की ओर से दी गई 17 सीटों के ऑफर को कांग्रेस ने स्वीकार कर ही लिया. नतीजा ये हुआ कि 2019 में जिस कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर जीत मिली थी, उस उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने 6 सीटों पर जीत हासिल की.

महाराष्ट्र में कांग्रेस ने INDIA गठबंधन के तहत शिवसेना उद्धव ठाकरे, एनसीपी शरद पवार के साथ मिलकर चुनाव लड़ा. यहां भी सीट शेयरिंग को लेकर काफी दिनों तक पेंचा फंसा रहा. आखिरकार सीट शेयरिंग के मुद्दे का समाधान हुआ और नतीजा ये हुआ कि 2019 में सिर्फ एक सीट पर जीत हासिल करने वाली कांग्रेस ने 2024 में 13 सीटों पर जीत हासिल की. इसके अलावा, इंडिया गठबंधन में शामिल शिव सेना (UBT) 9 सीटों पर जीत दर्ज की और NCP शरद चंद्र पवार ने 8 सीटों पर जीत हासिल की.

बिहार में कांग्रेस ने INDIA गठबंधन के तहत राजद, वीआईपी,  CPI-(M)(L) के साथ चुनाव लड़ा. 2019 में सिर्फ एक सीट पर जीत हासिल करने वाली कांग्रेस ने इस बार यानी 2024 में 3 सीटें जीत ली. वहीं, इंडिया गठबंधन की सहयोगी CPI-(M)(L) ने भी 2 सीटें जीतीं और राजद को भी 4 सीटों पर जीत हासिल हुई.

राजस्थान में कांग्रेस ने INDIA गठबंधन के तहत सीपीआई (एम), राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, भारत आदिवासी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा.  जिस कांग्रेस को 2019 में राजस्थान में एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं हुई थी, वहां 2024 में कांग्रेस ने 8 सीटों पर जीत हासिल कर ली. इसके अलाव गठबंधन में शामिल राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी, भारत आदिवासी पार्टी, CPI(M) को एक-एक सीट मिली.

पंजाब में भी कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी के साथ मिलकर चुनाव लड़ा. यहां कांग्रेस ने 7 सीटों पर जीत हासिल की और आम आदमी पार्टी को तीन सीटों पर जीत हासिल हुई.  

तमिलनाडु में कांग्रेस ने INDIA गठबंधन में शामिल डीएमके के साथ मिलकर चुनाव लड़ा. नतीजे जब आए तो डीएमके ने 22 सीटों पर जीत दर्ज की, जबकि कांग्रेस ने 9 सीटों पर जीत हासिल की.

केरल में नतीजे कांग्रेस के पक्ष में रहे. यहां कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी और 14 सीटों पर जीत हासिल की. इंडिया गठबंधन में शामिल IUML ने 2 सीटें जीतीं, जबकि केरल कांग्रेस और आरएसपी ने एक-एक सीट जीती. 

झारखंड में भी कांग्रेस ने इंडिया गठबंधन में शामिल झारखंड मुक्ति मोर्चा के साथ चुनाव लड़ा. नतीजे जब आए तो कांग्रेस को 2, जबकि झारखंड मुक्ति मोर्चा को 3 सीटों पर जीत हासिल हुई. 2019 के चुनाव में कांग्रेस और झामुमो को एक-एक सीटों पर जीत हासिल हुई थी. 

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article