17.7 C
Munich
Saturday, July 13, 2024

चंदौली: फंदे से लटकता मिला भाई – बहन का शव, जांच – पड़ताल में जुटी पुलिस…

Must read

अशोक कुमार जायसवाल/सचिन पटेल

चंदौली/डीडीयूनगर/संसद वाणी: जनपद चंदौली के मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत लॉट नंबर 2 स्थित जायसवाल स्कूल के पीछे एक मकान में भाई व बहन का फंदे से लटकता शव मिलने पर सनसनी फैल गई।सूचना पर पहुँची पुलिस ने जांचोपरांत दोनों शवों को उतार कर अपने कब्जे में ले लिया और पंचनामे के बाद पोस्टमार्टम के लिये जिला चिकित्सालय भेज दिया।

जानकारी के अनुसार जंगी साव गुप्ता के तीन पुत्रों में से दो पुत्र क्रमशः कमलेश गुप्ता उर्फ राजू गुप्ता 45 वर्ष,दीपू गुप्ता व उनकी बहन अंजू गुप्ता उर्फ गुड़िया गुप्ता 48 वर्ष जायसवाल स्कूल के पीछे लॉट नम्र 2 वार्ड नंबर 19 भाग 1 हनुमानपुर में अपने मकान में रहते थे। तीसरा भाई अपने परिवार के साथ कैथापुर में निवास करता है।

माता-पिता की तकरीबन 8 वर्ष पहले मौत हो चुकी थी। राजू गुप्ता और उनके भाई दीपू की शादी नहीं हुई जबकि बहन गुड़िया की शादी के बाद लगभग 15 वर्ष पूर्व तलाक हो चुका था। दीपू मंदबुद्धि है उसका इलाज चल रहा था। तीन चार दिनों से राजू और गुड़िया पास के ही एक किराये के घर में रहकर अपने घर में बने सेप्टिक टैंक की सफाई करवा रहे थे। गुरुवार को राजू और गुड़िया किराये के मकान में पड़ोसी यह कहकर गये कि हमलोग एक मंगलिक कार्यक्रम में जा रहे हैं शाम तक वापस आ जायेंगे। छोटे भाई दीपू का खाना उसी पड़ोसी के यहां से भेज दिया जा रहा था। गुरुवार को भी दीपू का खाना लेकर पड़ोसी युवक आया था उसने राजू और गुड़िया के बाबत पूछा तो दीपू ने बताया कि वे लोग रात में आयेंगे शादी में गये हैं। जबकि घर के ऊपरी मंजिल के कमरे में राजू और गुड़िया ने छत में लगी कुंडी से रस्सी का फंदा गले में बांधकर आत्महत्या कर ली थी। जिसकी जानकारी मृतक के मंदबुद्धि भाई जो नीचे ही रहता था उसको नहीं हुई। शुक्रवार की सायं जब पड़ोस का युवक उनके मंदबुद्धि भाई को पुनः खाना देने के लिये गया और उनसे उनके भाई बहन के बाबत पूछा तो उसने कुछ नहीं बताया। जब उक्त युवक ने ऊपर जाकर देखा तो उसके होश फाख्ता हो गये। वह बदहवास हालत में भागकर नीचे आया और इस घटना की जानकारी आसपास के लोगों को दी। जिसके बाद मौके पर पहुँचे क्षेत्राधिकारी पीडीडीयू नगर अनिरुद्ध सिंह व मय पुलिस टीम में साथ पहुँचे कोतवाल विजय बहादुर सिंह ने फारेंसिक टीम बुलाकर जांच कराने के बाद लटक रहे शव को नीचे उतारकर अपने कब्जे में ले लिया और पंचनामे के उपरांत पोस्टमार्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेज दिया है।

पुलिस की माने तो दीपू मंदबुद्धि है। गुड़िया और राजू ने गुरुवार को ही आत्महत्या कर ली थी। मृतक तीन भाई थे। एक भाई परिवार के साथ अलग रहता है। इस घटना के बाद वहां पहुंचे रिश्तेदारों व सगे संबंधियों में शोक की लहर दौड़ गई। बताया जा रहा है कि उनकी बहन गुड़िया अवसाद में थी साथ ही राजू की भी तबियत खराब रहने के कारण वह काफी चिंतित रहने लगा था कि उसके बाद उस मंदबुद्धि भाई का क्या होगा। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है की दोनों भाई बहन ने अवसाद के कारण यह कदम उठाया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article