17.5 C
Munich
Tuesday, July 23, 2024

काशी में सियासी टूरिज्म से परेशानी, होटल फुल, लोगों को नहीं मिल रही हैं गाड़ियां

Must read

वाराणसी/संसद वाणी : लोकसभा चुनाव का सातवां और आखिरी चरण का मतदान 1 जून को होगा।आध्यात्मिक नगरी काशी में इस समय केंद्रीय मंत्रियों और नेताओं की भीड़ उमड़ रही है।हालत यह है कि 25 से 30 मई तक 500 से अधिक लॉज,गेस्ट हाउस और होटल फुल हैं।बरहाल काशी घूमने आने वाले पर्यटकों को 1 जून के बाद आने की हिदायत दी जा रही है।

लोकसभा चुनाव के आखिरी और सातवें चरण में यूपी की 13 लोकसभा सीटों पर मतदान होगा, लेकिन इस बीच सातवें चरण के चुनाव के लिए काशी सियासी ग्राउंड बना हुआ है। यहां केंद्रीय मंत्री और नेताओं की भीड़ उमड़ रही है।

काशी के पांच सितारा से लेकर साधारण होटल तक सभी फुल चल रहे हैं।होम स्टे, लॉज और धर्मशाला तक में भी कमरे खाली नही हैं।इतना ही नहीं लग्जरी होटल और गाड़ियों की मांग इतनी ज्यादा है कि गाड़ियां प्रयागराज और लखनऊ से मंगाई जा रही हैं। कैंटोंमेंट, सिगरा, लक्सा और लंका इलाके के सभी होटल और लॉज फुल हैं।

दूसरे दिनों के मुकाबले फॉर्चूनर, इनोवा और क्रिएस्टा जैसी गाड़ियों की मांग दस गुना ज्यादा है।वहीं यहां आने वाले सियासी टूरिस्ट सबसे ज्यादा गंगा किनारे वाले होटलों में ठहरने की दिलचस्पी दिखा रहे हैं, जिससे अस्सी पर गंगा किनारे के गेस्ट हाउस तक की डिमांड बढ़ गई है। बता दें कि बीते एक महीने से आध्यात्मिक नगरी काशी में ट्रेवल और टूरिज्म सेक्टर बूम पर है। पिछले एक हफ्ते से यह हाई पर चल रहा है।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article