17.5 C
Munich
Tuesday, July 23, 2024

नवनिर्वाचित सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव के कहा कि पांच चुनावों से गुमराह कर भाजपा जनता को दे रही धोखा

Must read

राकेश वर्मा
आजमगढ़/संसद वाणी :
आजमगढ़ लोकसभा सीट से नवनिर्वाचित सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव ने जिले की जनता का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि यह जनता की जीत है। सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि आजमगढ़ के विकास की बुनियाद नेताजी ने रख दिया था। इसके साथ ही अखिलेश यादव ने इसे आगे बढ़ाया। उसी को और आगे बढ़ाया जाएगा। सपा सांसद का कहना है कि जिले में भ्रमण के दौरान जो देखा कि देवारा में गंभीर समस्या है जिसका समाधान किया जाएगा। इसके साथ ही चुनाव अभियान के दौरान यह भी महसूस किया कि जिले के जीयनपुर में सबसे अधिक जाम की समस्या है। उस समस्या को निपटाया जाएगा। जहां भी समस्या होगी वहां पर काम किया जाएगा। भाजपा के लोगों ने दिया जनता को धोखा सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव का कहना है कि भाजपा के लोगों ने जनता को धोखा देने का काम किया है। 2014 से लेकर 2024 तक भाजपा का यह पांचवा चुनाव है। पांचो चुनाव में जनता को गुमराह करने की कोशिश की गई। देश की जनता को 2014 में लगा कि नरेन्द्र मोदी गुजरात से आए हैं। जनता ने उन पर भरोसा किया यही कारण है कि जब महंगाई कम करने की बात कही और देश नही बिकने दूंगा की बात कही तो देश की जनता ने भरोसा किया। एक बात आज स्पष्ट हो गई है कि भाजपा के लोग जो कहते हैं उसके उल्टा चलते हैं। जो पर्दा पड़ा हुआ था इस लोकसभा के चुनाव में सब जनता के समझ में आ गया। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने जो एजेंडा सेट किया उस पर जनता ने भरोसा किया। आजमगढ़ की सरजमी ने देश की आजादी से लेकर अब तक एक से एक लोगों को निर्वाचित किया बल्कि दखल दिया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का आभार और धन्यवाद देता हूं। नेताजी ने अपने पूरे जीवन ने सेवा की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने अपना दूसरा घर माना है। किसी जिले में इतनी ऐतिहासिक औन अनुभवी सरजमी नहीं है। भाजपा ने किया राम की मर्यादा तोड़ने का काम सपा सांसद धर्मेन्द्र यादव का कहना है कि पूर्वांचल की हार को लेकर अयोध्या के लोगों को धन्यवाद देता हूं। भगवान राम की मर्यादाओं को तोड़ने का काम भाजपा के लोगों ने किया। आपने कहा भगवान राम को हम लाए हैं। भगवान राम भी इस बार नाराज हो गए। यही कारण है कि भाजपा को करारी हार का सामना करना पड़ा और भाजपा अयोध्या की सीट भी हार गई।

- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article